कुछ सपने और कुछ पंक्तियां

कुछ सपने और कुछ पंक्तियां

28 Reads 8 Votes 5 Part Story
Shreya Goswamy By Shreya_VA Updated Nov 06, 2020

सपने तो बहुत देखते है हम। 
कभी कभी दो चार शब्द लिखते भी हैं। 
पर किसी दिन हम कविता के छंदों में ही 
अपने सपने सजाते हैं।

~~~~~

बस कुछ बातें ऐसी ही है इस कविता संग्रह में!

Dedicated to - Mr शब्दों के जादूगर because he inspires me and guides me to try and excel in हिन्दी 🌼🌼🌼